वी ध‍नवंतरी

 

वी-धन्वन्तरी ऋण योजना पंजीकृत डॉक्टरों के लिए है जो चिकित्सा सेवा से जुडे हैं. इस योजना के कई आकर्षक features हैं अतः हमारे एसएमई मानदंड को पूरा करने क् उद्देश्य से शाखाओं को चाहिए कि इस योजना का ज्यादा से ज्यादा लोकप्रिय बनाये.
 
 
उद्देश्य
Ø क्लिनिक/नर्सिंग होम्स, रोग जन्य परीक्षण केन्द्र चलाने के लिए अपना खुद का परिसर पाने लिए ऋण बशर्ते कि राज्य/केन्द्र सरकार द्वारा निश्चित विधि के अनुसार लाईसेंस/पंजीकृत किया हो.
Ø मौजूदा क्लिनिक/नर्सिंग होम, पेथॉलाजिकत लैब परिसर को बढाने, मरम्मत और आधुनिकिकरण के लिए
Ø फर्निचर खरीदने, साज-सज्जा करवाने और मौजूदा क्लिनिक की मरम्मत के लिए
Ø क्लिनिक,अस्पताल,स्कैनिंग सेंटर, रोग परीक्षण लैब,डॉयग्नास्टिक केंद्रों के लिए चिकित्सा उपकरण, औजार,कंप्यूटर,साफ्टवेयर, पुस्तकें खरीदने के लिए.
Ø इस योजना के तहत अंबुलेंस, कार, वाहनों की खरीदी के ऋण कवर किए गए हैं
Ø औषधियों की स्टाक सहित कार्यशील पूंजी की आवश्यकता
 
पात्रता
Ø भारत के सांवधिक प्राधिकारी द्वारा मान्यता प्राप्त बीएएम, एमबीबीएस,बीडीएस, फिजियॉथेरपि का कोर्स, रेडियोलॉजी जैसे न्यूनतम योग्यता वाले मान्यता प्राप्त चिकित्सा प्रैक्टिशनर
Ø न्यूनतम अनुभव-तीन वर्षों का प्रैक्टिश
 
उधारकर्ता का गठन
Ø ऐसे व्यक्ति, संयुक्त उधारकर्ता, स्वामित्व, साझेदारी, कंपनी (प्रा.सा.लि.), संस्थाएं जहां के शेयरधारक अधिकतर योग्यता प्राप्त चिकित्सा प्राक्टिशनर हों और फर्म, कंपनियां, ट्रस्ट के मामले में वे पेशेवर चिकित्सा सेवा से जुडे हो.
 
ऋण की मात्रा
Ø अधिकतम ऋण सीमा रु.5.00 करोड. यद्यपि, चिकित्सा उपकरण की खरीदी के लिए रु.2.50 करोड की सीमा होनी चाहिए. अस्पताल, क्लिनिक हेतु पहले से निर्मित परिसर की खरीदी या खुद के साइट पर अस्पताल, क्लिनिक का निर्माण या साइट खरीद कर अस्पताल, क्लिनिक का निर्माण करने हेतु तथा चिकित्सा उपकरण की खरीदी के लिए भी यदि ऋण लिया जाता है तो ऐसे मामलों में उपकरणों की लागत कुल परियोजना लागत के 50 प्रतिशत से ज्यादा नहीं होना चाहिए.
 
सुविधा का प्रकार
Ø सावधि ऋण
Ø नकद ऋण दृष्टिबंधक (सीसीएच) या प्रयोजन के अनुसार दोनो मिलाकर
Ø ऋण देते समय स्टॉक विवरण लें तथा कार्यशील पूंजी के मंजूरी पर वार्षिक आधार पर लें.
मार्जिन
Ø उपकरण/मशीनरी/वाहनों की खरीदी के लिए 25%
Ø परिसर लेने/तथा/या मौजूदा परिसर के विस्तार/मरम्मत/आधुनिकाकरण के लिए 35%
Ø सीसीएच सीमा के मामले में स्टॉक पर 25%
 
प्रतिभूति
Ø प्राथमिक
Ø बैंक के वित्त पोषण से प्राप्त आस्तियों का दृष्टिबंधक
Ø भूमि या भवन निमार्ण/प्राप्र करने पर संपत्ति का समसूल्यक बंधक
 
संपार्श्विकता
Ø यदि सीजीटीएमएसई गारंटी योजना के तहत कवर किया जाता है तो रु.100.00 लाख तक की ऋण के लिए गारंटी/संपार्श्विकता नहीं होगी. बंधक ऋण से परे (अस्पताल/लैब/क्लिनिक आदि 35%मार्जिन में खोलने हेतु ऋण मंजूरी पर)हो तो ऋण राशि की 75% के बराबर संपार्श्विक प्रतिभूति लेनी होगी यानि परिसर प्राप्त करने के लिए कोई संपार्श्विक प्रतिभूति नहीं.
Ø रु.100.00 लाख से अधिक ऋण के लिए बंधक ऋण से परे ऋण हेतु ऋण राशि की 75% सममूल्यक संपार्श्विक प्रतिभूति लेनी है (अस्पताल/लैब/क्लिनिक आदि 35%मार्जिन में खोलने हेतु ऋण मंजूरी पर)हो तो ऋण राशि की 75% के बराबर संपार्श्विक प्रतिभूति लेनी होगी यानि परिसर प्राप्त करने के लिए कोई संपार्श्विक प्रतिभूति नहीं.
 
ऋण मूल्यांकन
Ø सावधि ऋण- ऋण नीति के अनुसार परियोजना की जीवनक्षमता तथा डीएससीआर पर निर्भर आस्तियों की खरीदी लागत का 75% या परिसर प्राप्ति लागत का 65% या मरम्मत /विस्तार/आधुनिकीकरण आदि हेतु परियोजना लागत.
Ø कार्यशील पूंजी-औषधियों सहित स्टॉक का 75% या लेखा परीक्षा की गई तुलन पत्र के अनुसार पिछले वर्ष के राजस्व व्यय का 75%
सीजीटीएमएसई के अंतर्गत गारंटी कवरेज
Ø जब संपार्श्विकता नहीं ली जाती हो, रु.100.00 लाख तक के ऋण के लिए सीजीटीएमएसई कवरेज अनिवार्य है.
Ø जब ऋण राशि के सममूल्य पर 150% तक का संपार्श्विकता ली जाती हो तो सीजीटीएमएसई कवरेज की आवश्यकता नहीं.
Ø सीजीटीएमएसई प्रीमियम तथा वार्षिक शुल्क उधारकर्ता द्वारा वहन किया जाना है. सीजीटीएमएसई कवरेज पूरे ऋण अवधि के लिए होनी चाहिए. अतः, सीजीटीएमएसई कवरेज की नवीनीकरण हेतु गारंटी शुल्क को ऋण खाते में नामे डालने के लिए आवेदक उधारकर्ता से इस आशय का वचनपत्र लें.
Ø सीजीटीएमएसई कवरेज के तहत गारंटी समय समय पर संप्रेषित (प्रकाप 1205 दिनांकित 16.03.2012) में परिभाषित शर्तों, पात्रता मानदंड तथा प्रामियम के अनुसार होगा.
 
ऋण आवेदन पत्रों का निपटान
Ø आवेदकों से प्राप्त ऋण आवेदन पत्रों का निपटान 30 दिनों के अंदर की जाने चाहिए.
Ø प्राप्त आवेदन पत्र यदि ऋण विचारयोग्य न हो तो शिकायत का अवसर दिए बिना अविलंब आवेदक को सूचित करें.
 
 
 
 

 

प्रदर्शन